शासकीय जेएमपी कॉलेज महाविद्यालय मनाया गया वार्षिक उत्सव समारोह

तखतपुर।
वार्षिक उत्सव का मकसद सिर्फ़ मनोरंजन करना नहीं होता  वरन छात्र-छात्राओं की रुचियों और प्रगति का लेखा-जोखा जानना भी होता है। इस आयोजन से सभी विद्यार्थियों को नया उत्साह और प्रेरणा मिलती है यह उत्सव प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को मंच देने का एक अवसर होता है जहां विद्यार्थी अपनी प्रतिभा में निखार लाता है उपरोक्त उदगार मुख्य अतिथि की आसंदी से शासकीय जे एम पी महाविद्यालय में आयोजित वार्षिक उत्सव में विधायक धर्मजीत सिंह ने दिए।
शासकीय जे एम पी महाविद्यालय तखतपुर में वार्षिक उत्सव कार्यक्रम संपन्न हुआ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक धर्मजीत सिंह ठाकुर थे कार्यक्रम की अध्यक्षता प्राचार्य डॉ मधुलिका लाल ने की विशिष्ट स्थिति नगर पालिका उपाध्यक्ष वंदना बाला सिंह ठाकुर, CSP गौरव ठाकुर, त्रेतानाथ पांडेय, महेश पाठक थे। सर्वप्रथम अतिथियों ने स्व. जनकलाल मोतीलाल पांडे की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया तत्पश्चात सरस्वती प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं द्वीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। अतिथियों के परिचय एवं स्वागत के पश्चात उद्बोधन के क्रम में प्राचार्य डॉ मधुलिका लाल ने विगत वर्ष महाविद्याय द्वारा प्राप्त उपलब्धियो का वर्णन किया एवं खेलकूद में छात्रों द्वारा प्राप्त की गई उपलब्धियो की जानकारी दी। CSP गौरव ठाकुर ने निजात कार्यक्रम के बारे में बताते हुए सभी छात्र-छात्राओं से नशे से दूर रहने एवं अपने आस पास नशा करने वाले लोगों को मुक्त करने की बात कही।
 कार्यक्रम को वंदना ठाकुर, त्रेतानाथ पांडेय एवं महेश पाठक ने भी संबोधित किया। युवा दिवस पर स्वामी विवेकानंद को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए विधायक धर्मजीत सिंह ने कहा कि इस महाविद्यालय को प्राचार्य ने पूरे साहस से आगे बढ़ाने का प्रयास किया है महाविद्यालय का नाम पूरे छत्तीसगढ़ में अग्रणी महाविद्यालय के रूप में हो इसके लिए सहयोग देने का आश्वासन दिया व मंच बनाए जाने हेतु 5 लाख रुपए व सिंथेटिक कोर्ट हेतु 5 लाख रु विधायक मद से देने की घोषणा की साथ ही विभिन्न खेलों में राष्ट्रीय और विश्वद्यालय स्तर पर महाविद्यालय का प्रतिनिधित्व करने वाले छात्र-छात्राओं व  NCC के छात्रों को सम्मानित किया। 
इसके बाद छात्र छात्राओं द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी गई जिसमे करमा नृत्य, सुआ नृत्य, पंथी नृत्य, झांसी की रानी पर नृत्य नाटिका, गरबा, दक्षिण भारतीय नृत्य, छत्तीसगढ़ी नृत्य, राज्य गीत, हरियाणवी नृत्य, बॉलीवुड गानों पर डांस, प्रहसन आदि थे जिसका उपस्थित सभी छात्र-छात्राओं ने भरपूर आनंद लिया। तत्पश्चात महाविद्यालय स्तर पर विभिन्न प्रतियोगिताओं में विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कार प्रदान किये गए। कार्यक्रम का संचालन डॉ राजीव शर्मा एवं आभार प्रदर्शन डॉ बसंत अंचल ने किया। कार्यक्रम में गणमान्य नागरिक भूतपूर्व छात्र, महाविद्यालय के प्राध्यापक एवं कर्मचारी व बड़ी संख्या में छात्र-छात्राये उपस्थित थे।

Post a Comment

Previous Post Next Post